परिवहनब्रेकिंग न्यूज

गंगा में बढ़ाव जारी पर ऊपर राहत के संकेत

गाजीपुर। गंगा में बढ़ाव का क्रम जारी है। शुक्रवार की रात आठ बजे की रिपोर्ट के मुताबिक बढ़ाव की रफ्तार प्रति घंटा तीन सेंटीमीटर दर्ज थी। जिला मुख्यालय पर जल स्तर खतरे का निशान (63.105) पार कर 63.570 मीटर दर्ज हुआ।

बाढ़/सिंचाई विभाग के एक्सईएन आरके चौधरी ने गंगा में ऊपर के बढ़ाव के सवाल पर बताया कि सुखद खबर है कि चंबल में बढ़ाव थम गया है। उसकी वजह से इटावा में यमुना की धार कमजोर हो गई है। उसका असर गंगा पर भी पड़ेगा। यही स्थिति रही तो उम्मीद है कि गाजीपुर में गंगा 31 अगस्त से घटने लगेगी मगर उसके पहले गाजीपुर में गंगा के बढ़ने की रफ्तार और तेज होगी। वैसे गनीमत यह भी है कि गाजीपुर के नीचे पानी के खिसकाव की स्थिति अपेक्षाकृत संतोषजनक है।

तटवर्ती और निचले इलाकों में तेजी से बाढ़ का पानी पसर रहा है। खासकर रेवतीपुर, भदौरा ब्लॉक के कई गांवों का सड़क संपर्क टूट गया है।

बाढ़ को लेकर प्रशासन अलर्ट मोड में है। खुद डीएम एमपी सिंह मुहम्मदाबाद तहसील के ग्राम गौसपुर, सेमरा, शेरपुर पहुंचे और स्थलीय निरीक्षण किए। उन्होंने एसडीएम मुहम्मदाबाद हर्षिता तिवारी को निर्देश दिया कि बाढ़ प्रभावित गांवों के लेखपाल व अन्य ग्राम स्तरीय अधिकारी भ्रमणशील रहें तथा बाढ़ से होने वाले नुकसान पर पैनी नजर रखते हुए तत्काल सर्वे सुनिश्चित करें। डीएम ने स्वंय नाव से गंगा किनारे के गांवों का सर्वेक्षण किए तथा उपस्थित ग्रामीणों से अपील किया कि अभी गंगा में बढ़ाव की स्थिति है। लिहाजा वह लोग अपने निकटवर्ती बने बाढ़ आश्रय स्थलों पर समय रहते चले जाएं।

यह भी जरूर सुनें–एमएलसी बनाम ब्लॉक प्रमुख

 ‘आजकल समाचार’ की खबरों के लिए नोटिफिकेशन एलाऊ करें

Related Articles

Back to top button