अपराधब्रेकिंग न्यूजराजनीति

पूर्व एमएलसी कैलाश सिंह और सैदपुर ब्लॉक प्रमुख में तकरार !

गाजीपुर। पूर्व एमएलसी कैलाश सिंह और सैदपुर ब्लॉक प्रमुख हीरा यादव के बीच तू-तू-मैं-मैं होने की खबर मिली है। वाकया खानपुर क्षेत्र के फरिदहां स्थित शिव महाविद्यालय कैंपस में रविवार की सुबह करीब दस बजे का है।

कैलाश सिंह एमएलसी चुनाव में भाजपा उम्मीदवार विशाल सिंह चंचल के चुनाव अभियान में निकले थे। उसीक्रम में वह अपने लाव-लश्कर के साथ शिव महाविद्यालय कैंपस में पहुंचे और फोन करवा कर हीरा यादव को बुलवाए।

हीरा यादव के पहुंचने पर ब्लॉक प्रमुख चुनाव में उनका साथ देने का हवाला देते हुए कैलाश सिंह कहे कि अब वह एमएलसी चुनाव में उनके कहने पर अपनी पूरी टीम के साथ भाजपा उम्मीदवार चंचल सिंह के लिए लग जाएं लेकिन हीरा यादव ने छूटते ही कहा कि ऐसा नहीं करेंगे। इस चुनाव में वह अपनी पार्टी सपा के साथ हैं।

चश्मदीदों के मुताबिक हीरा यादव का जवाब सुनते ही कैलाश सिंह का पारा गरम हो गया। हीरा यादव से उन्हें ऐसे जवाब की उम्मीद नहीं थी। कैलाश सिंह उन पर बिफर पड़े। हीरा यादव ने प्रतिकार किया तो कैलाश सिंह एकदम से उखड़ गए और घूंसा तानकर उनकी ओर बढ़े। तब वहां मौजूद अन्य लोगों ने बीच बचाव कर किसी तरह मामला शांत कराया। उसके बाद कैलाश सिंह और हीरा यादव अपने-अपने रास्ते चले गए।

सैदपुर इलाके के राजनीतिक हलके में इस घटना की खूब चर्चा हो रही है। जहां सपा के लोग इसे सरकारी पार्टी भाजपा का अत्याचार बता रहे हैं। वहीं पूर्व एमएलसी कैलाश सिंह के लोग ब्लॉक प्रमुख हीरा यादव को एक नंबर का एहसान फरामोश बता रहे हैं।

…पर बासुचक के पूर्व प्रधान मनोज क्यों गए जेल

गाजीपुर। देवकली ब्लॉक की ग्राम पंचायत के पूर्व प्रधान मनोज सिंह को पुलिस शनिवार को आर्म्स एक्ट में गिरफ्तार कर जेल भेज दी। पुलिस की इस कार्रवाई को एमएलसी चुनाव अभियान से ही जोड़ा जा रहा है। मनोज सिंह जिला सहकारी बैंक के पूर्व चेयरमैन अरुण सिंह के बेहद करीबी माने जाते हैं लेकिन बीते विधानसभा चुनाव में वह जंगीपुर सीट के बसपा उम्मीदवार डॉ.मुकेश सिंह के साथ तन-मन से लगे थे।

यह भी पढ़ें–अरे! भाजपा का ‘मोस्ट वांटेड’…

आजकल समाचार की खबरों के लिए नोटिफिकेशन एलाऊ करें

Related Articles

Back to top button